‘Attitude Is Everything’ Book Summary in Hindi

Attitude Is Everything Book summary in hindi

तो हिडेन मैसेजेस इन वोटर के ऑथर मासारू ईमोटो ने एक एक्सपेरिमेंट किया। उन्होंने उबले हुए चावल ग्लास की तीन अलग अलग जार में भर दिए। उसके बाद एक जार के बाहर लिखा Love, दूसरी जार के बाहर लिखा hate और तीसरी जार पर उन्होंने neutral लिखा।

अब जिस जार के ऊपर लव लिखा हुआ था उसके पास जाकर वो हमेशा पॉजिटिव वर्ड्स बोलते। जैसे कि आई लव यू, थैंक्यू सो मच, यूआर ग्रेट आदि। जिस जार के ऊपर hate लिखा हुआ था उसके पास जाकर वो हमेशा नेगेटिव वर्ड्स बोल दे जैसे कि है कि I hate you, You are stupid। जबकि तीसरी जार के साथ उन्होंने कुछ नहीं किया।

ये काम वो डेली 30 दिन तक करते रहें और 30 दिन के बाद रिजल्ट कुछ ऐसा देखने को मिला कि जिस चार को पोजिटिव वर्ड्स बोले गए थे यानी पॉजिटिव वाइब्स दी गई थी उसके चावल वैसे के वैसे ही थे। लेकिन जिस जार को नेगेटिव वर्ड्स को बोले गए थे, नेगेटिव एनर्जी दी गई थी उसके चावल पूरी तरह से सड़ गए थे जबकि तीसरी जार जिसको कुछ भी नहीं कहा गया था उसके चावल थोड़े से ही खराब हुए थे।

अब ये एक्सपेरिमेंट मिथ है या रीयल साइन्स ये हम नहीं जानते। लेकिन ये तो साइंटिफिक prooved है कि क्लैरिटी प्लेट पर रखी हुई sand की पैटर्न म्यूजिक की अलग अलग फ्रीक्वेंसी पर चेंज होती रहती है। मतलब की एनर्जी, फ्रिक्वेंसी और आपका एटीट्यूड काफी हद तक world को अफेक्ट करता है।

Attitude Is Everything – रवैया सब कुछ है

‘Attitude Is Everything’ बुक के ऑथर जैफ केलर का कहना है कि सक्सेस का रास्ता आपके एटीट्यूड से होकर गुजरता है। वो कहते हैं-
If you change your attitude you can change your life.

और इसके लिए वो अपनी एक स्टोरी बताते हैं। Author को बचपन से ही एक सक्सेसफुल लॉयर बनना था। Author ने कड़ी मेहनत और एफर्ट से अपने इस सपने को पूरा भी किया। लेकिन कुछ टाइम बाद ऑथर को समझ आया कि लॉयर का जॉब बिल्कुल वैसा नहीं है जैसा उन्होंने सोचा था। उनको अपने काम में बिल्कुल मजा नहीं आ रहा था। वह अपने काम की वजह से बहुत ज्यादा स्ट्रेस लेने लगे थे जिससे वो 28 साल की उम्र में ही चालीस के दिखने लगे थे।

स्ट्रेस में रहने के कारण एक रात ऑथर को नींद नहीं आ रही थी तो रात में वे टीवी देख रहे थे। तब टीवी पर अचानक एक ad आई। वो ad एक इन्फॉर्मेशन प्रॉडक्ट की थी जिसका नाम था the mental bank। उसमें बताया जा रहा था कि इस प्रोडक्ट को यूज करके कोई भी अपनी जिंदगी को बदल सकता है क्योंकि ये प्रॉडक्ट लोगों के सबकॉन्शस बिलीफ पर काम करता है।

वैसे तो जेफ अक्सर इस तरह की चीजों से दूर रहते थे लेकिन उस दिन डिप्रेस्ड होने के कारण ऑथर ने अपनी लाइफ को बदलने का फैसला लिया और उस प्रोडक्ट को ऑर्डर कर दिया। ऑर्डर करने के कुछ ही दिनों बाद प्रोडक्ट की सीडी घर पर आ गई। सीडी आने के बाद जेफ ने दिल से उस प्रोडक्ट में बताई गई बातों को सीखना स्टार्ट किया और उनकी लाइफ में काफी पॉजिटिव चेंजेस आए।

Lesson 1: You Are a Human Magnet

इसलिए ऑथर ने उसी बात को लेकर एक बुक तैयार करी Attitude is Everything, जिसका फर्स्ट पॉइंट कहता है कि You Are a Human Magnet। यानी जैसा आप सोचेंगे उसी प्रकार के लोगों को अट्रैक्ट करेंगे। अगर हम 100 लोगों को एक होल में इकट्ठा करें जो एक दूसरे को जानते भी न हो और एक घंटे के बाद उस होल में देखे तो सेम एनर्जी और सेम एटीट्यूड वाले लोग एक साथ खड़े होंगे। ज्यादा एनर्जी वाले एक साथ खड़े बातें कर रहे होंगे।

वर्ल्ड फेमस राइटर स्‍पीकर अर्ल नाइटेंगल कहते थे कि आपकी सक्सेस का सीक्रेट सिर्फ 6 words में छुपा है सरप्राइजिंगली आपके फेलियर का भी। और वह 6 वर्ड से है-

‘We become what we think about’

हेनरी फोर्ड का एक फेमस qoutes है,

‘Whether you think you can or think you can’t you are right’

अगर आप कंटीन्यूअसली एक पर्टिकुलर गोल के बारे में सोचते हो तो आप उसको अचीव करने के लिए स्टेप्स लोगे।

जॉनी को लगता है कि वो हर महीने एक लाख रुपए earn कर सकता है। Than like a ह्युमन मैग्नेट वो ऐसी ऑपर्च्युनिटी जो अट्रैक्ट करेगा जो उसे उस डायरेक्शन में लेकर जाए।

अगर आप बिलीव करते हो कि आप कोई चीज अचीव कर सकते हो तो आप ट्राय करोगे स्टेप्स लोगे एक्स्ट्रा एफर्ट लगाओगे उस चीज को अचीव करने के लिए और दिन में एक या दो बार पॉजिटिव सोचने से ऐसा नहीं होगा। आपको genually उस चीज में बिलीव करते हुए उसी चीज को आपका dominant thought बनाना होगा और आपके dominant thought से आपके पूरे दिन को रूल करते हैं. क्योंकि एक रिसर्च के दौरान अल नाइटेंगल ने पाया कि दुनिया भर के सारे महान राइटर्स फिलॉसफर और रिलीजियस लीडर इस बात पे एग्री करते हैं कि हमारे विचार से हमारे action determine करते हैं।

मतलब अगर आप खुद पर भरोसा और ये माइंड सेट रखिए कि आपके लिए कुछ भी इम्पॉसिबल नहीं है तो सच में आपके लिए कुछ भी इम्पॉसिबल नहीं होगा।

Lesson 2: Make a commitment and you will move mountains

दोस्तो अब तक मैंने आपको सिर्फ पॉजिटिव थिंकिंग के फायदे बताए और वो किस तरह हमारी जिंदगी को बदल सकता है इसके बारे में बताया लेकिन सिर्फ सोचने से कुछ नहीं होगा। अगर जिंदगी बदलनी है तो एक्शन लेना भी जरूरी है। बिना एक्शन लिए गोल्स और सक्सेस को कभी हासिल नहीं किया जा सकता।

इस बात को समझाने के लिए ‘Attitude Is Everything’ के ऑथर कहते हैं कि उनके एक मित्र ने न्यूयॉर्क में अमेरिकन रॉयल आर्ट नाम की एक आर्ट गैलेरी स्टार्ट की थी और इस कंपनी को उंचाइयों पर ले जाना ही ऑथर के फ्रेंड का सपना था। इसलिए उन्होंने पहले वॉर्नर ब्रदर्स और हैना बार्बरा के आर्ट वर्क्स खरीदे। लेकिन उसे पता था कि अगर उन्हें सक्सेस हासिल करना है तो उन्हें वॉल्ट डिज्नी के आर्टिस्ट भी अपनी कंपनी में शामिल करने होंगे।

इसीलिए वॉल्ट डिज्नी का लाइसेंस पाने के लिए उन्होंने बहुत कोशिश करी लेकिन उस टाइमभी वॉल्ट डिज्नी बहुत फेमस थे और छोटी मोटी कंपनियों के साथ काम नहीं करते थे। पर फिर भी ऑथर के फ्रेंड ने उस कंपनी को कॉन्टैक्ट किया और लाइसेंस के लिए रिक्वेस्ट की पर उनकी रिक्वेस्ट को हर बार रिजेक्ट कर दिया गया। लेकिन मना करने के बाद भी ऑथर के फ्रेंड रुके नहीं उन्होंने बार बार कंपनी को कॉन्टैक्ट किया पर हर बार उनके रिक्वेस्टको मना कर दिया जाता था।

ऑथर के फ्रेंड की जगह अगर आप या में होते तो शायद इतने रिजेक्शन के बाद हम पक्का हार मान लेते लेकिन उधर के फ्रेंड ने उल्टा किया। वो फिर से वॉल्ट डिज्नी के एग्जीक्यूटिव को कॉन्टेक्ट करने लगे। पर बार बार कॉन्टेक्ट से बचने के लिए आखिरकार वॉल्ट डिज्नी के ऐग्जिक्युटिव्स ने उन्हें एक नॉन पॉपुलर जगह पर लाइसेंस देने की बात मान ली।

इस बात को सुनते ही ऑथर के फ्रेंड अगले दिन ही फ्लाइट पकड़कर सीधे उस जगह पर गए और वहां जाकर एक रोड के सामने दुकान खरीद ली। इस बात का पता जब वॉल्ट डिज्नी को लगा तो वो उनसे काफी इम्प्रेस हो गए और उन्हें कंप्लीट लाइसेंस दे दिया और कुछ ही सालों में ऑथर के वो फ्रेंड अमेरिका के लार्जेस्ट आर्ट सेलर में से एक थे।

ये example देते हुए ‘Attitude Is Everything’ के ऑथर कहते हैं कि पॉजिटिव सोचना जितना जरूरी है उतना ही ज्यादा जरूरी है पॉजिटिव ऐक्शन लेना। जब आप लगातार किसी चीज को पाने के लिए मेहनत करते हों तो वो चीज आपको मिल जाती है। इसीलिए सक्सेस पाने के लिए कमिटमेंट करना भी बहुत ज्यादा जरूरी होता है।

जैसे ऑथर के फ्रेंड ने कमिटमेंट किया था कि वो अपनी कंपनी को सक्सेसफुल कंपनी बना कर ही रहेंगे तो उन्होंने वैसा किया भी। ज्यादातर लोग सोचते तो बहुत कुछ है लेकिन एक छोटी सी प्रॉब्लम आते ही वो अपने गोल को भूल जाते हैं और कभी सक्सेस हासिल नहीं कर पाते। लेकिन अगर आपका कमिटमेंट author के फ्रेंड की तरह होगा तो आप भी हर मुश्किलों के बाद भी अपने गोल को हासिल करने में सक्सेसफुल जरूर होंगे।

Lesson 3: Turn your problems into opportunities

दोस्तो जब भी हमारी जिंदगी में परेशानी आती है तब हम अपनी परेशानियों से डर जाते हैं। पर हर चीज को छोड़कर भागने का मन बना लेते हैं लेकिन ऑथर का कहना है कि प्रॉब्लम्स ही होती हैं जो हमारी लाइफ में चेंज लाती हैं। प्रॉब्लम्स की वजह से ही हम कुछ नया ट्राई कर पाते हैं और अपने अंदर के पोटेंशियल को रिच कर पाते हैं।

author कहते हैं कि डिज्नी जो आज एक बहुत बड़ी एनीमेटेड कंपनी है। उनके मालिक वॉल्ट डिज्नी को एक न्यूज पेपर कंपनी जिसमें वह as a कार्टूनिस्ट काम करते थे वहां से यह बोलकर निकाल दीया गया था कि उनमें इमेजिनेशन और क्रिएटिविटी की कमी है। उस न्यूजपेपर कंपनी से इंसल्ट करके निकल जाने के बाद वॉल्ट डिज्नी अपनी प्रॉब्लम से डरकर बैठे नहीं बल्कि अपने प्रॉब्लम्स का डटकर सामना किया और खुद की एक एनिमेशन कंपनी खोल ली। जो आज भी दुनिया की नंबर वन एनिमेशन कंपनी है।

ठीक इसी तरह ‘Attitude Is Everything’ के ऑथर अपना एग्जांपल देते हुए कहते हैं कि अगर उन्हें लॉयर की जॉब में प्रॉब्लम नहीं होती फ्रस्ट्रेशन नहीं होती डिप्रेशन नहीं होता तो शायद ऑथर आज भी उसी law firm में काम कर रहे होते। लेकिन author को अपने काम में परेशानी आई उन्हें प्रॉब्लम्स होती थी इसीलिए उन्होंने अपनी जिंदगी बदलने के लिए एक बड़ा फैसला लिया और अपनी जॉब quit कर दी। ऑथर ने प्रॉब्लम्स को ही जड़ से हटा दिया और वह करने लगे जो वो ऑलवेज करना चाहते थे इसलिए ऑथर कहते हैं कि प्रॉब्लम्स के बिना हम नए आइडियाज कभी खोज ही नहीं सकते।

Lesson 4: Your Words Blaze a Trail

थोड़े दिन पहले ही मैं जेफ बेजोस का एक इंटरव्यू देख रहा था। वो बता रहे थे कि उनका थॉट प्रोसेस क्या है। कैसे वो एक के बाद एक प्रॉडक्ट मार्केट में लाते रहते हैं जैसे कि एमेजॉन के बाद वो अमेजन प्राइम, अमेजन किंडल, एमेजॉन वेब सर्विसेज, aws और एमेजॉन ऑडिबल ले आए।

वो कहते हैं कि मुझे पता है कि हमें हर बार नए प्रॉडक्ट पर इनवेस्ट करना पड़ेगा ये सोचकर कि वो हमारा नेक्स्ट बेस्ट प्रॉडक्ट बने। मुझे ये भी पता है कि उन 10 में से 9 प्रोडक्ट्स फेल हो जाएंगे और हमारे करोड़ों रुपए वेस्ट हो जाएंगे लेकिन सक्सेस का एक ही राज है कि फेलियर के बावजूद भी हम आगे बढ़ते रहे और वो एक सक्सेस हमारे 9 फेलियर की भरपाई कर देगी और यही जेफ बेजोस की सक्सेस का राज है।

आपके वर्ड्स में बहुत पावर होती है। आप जो कहते हैं आप वो बन जाते हैं वर्ड्स की अहमियत बताने के लिए तो नेपोलियन हिल ने थिंकिंग ग्रो रीच नाम की पूरी की पूरी किताबें लिख दी है। इसलिए ऑथर कहते हैं कि हमेशा खुद के लिए पॉजिटिव और अच्छे वर्ड्स बोलो।

निष्कर्ष

अब इस ‘Attitude Is Everything’ बुक को समराइज करके बताऊं तो फर्स्ट यू आर अ ह्यूमन मैगनेट। आप जैसा सोचोगे वैसे लोगों को अब अट्रैक्ट करोगे। सैकंड मेक अ कमिटमेंट एंड यू विल मूव माउंटेंस। थर्ड वॉल्ट डिज्नी की तरह अपनी प्रॉब्लम्स को ही अपॉच्र्युनिटीज में कनवर्ट करना सीखो।एंड द लास्ट वन इज आपके वर्ड्स में बहुत पावर होती है तो उसे चुन चुनकर बोला करे, धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *